• दूध खट्टा लैक्टिक अम्ल के कारण होता है। 

• नीऑन गैस का प्रयोग ट्यूबों के ऊपर में विज्ञापन चिन्हों के रूप में होता है। 

• पेट्रोलियम हाइड्रोकार्बनों का एक जटिल द्रव मिश्रण है। 

• रेयॉन सेलुलोज से बना संश्लेषित सिल्क है। 

• सिलिकॉन (अधातु) का प्रयोग कम्प्यूटर की इलेक्ट्रॉनिक चिप्स बनाने में होता है। 

• हीरा का अपवर्तनांक सबसे अधिक होता है। 

• पूर्ण आंतरिक परावर्तन के कारण हीरा चमकता है। 

• प्लेटिनम सबसे कठोर धातु है। 

• प्लेटिनम को 'सफेद स्वर्ण” भी कहा जाता है! 

• इलेक्ट्रॉन त्याग करने की प्रक्रिया ऑक्सीकरण तथा ग्रहण करने की प्रक्रिया अवकरण कहलाता है। 

• आतिशबाजी में हरा रंग बेरियम के कारण होता है। 

• दियासलाई में लाल फॉस्फोरस लेपित होता है। 

• रेडॉन वायुमंडल में नहीं पाई जाने वाली अक्रिय गैस है। 

• रेडॉन गैसीय तत्वों में सबसे भारी है। 

• दलहनी पौधों की जड़ों में राइजोबियम नामक जीवाणु पाये जाते है। 

• फोटोग्राफी में सिल्वर ब्रोमाइड का प्रयोग होता है। 

• गुब्बारों को भरने में हीलियम गैस का प्रयोग होता है। 

• नन-स्टीक बर्तन के उपरी परत टेफलॉन का बना होता है। 

• लैम्पों तथा ट्यूबों में नियॉन गैस भरी जाती है। 

• जल की अस्थायी कठोरता उसमें कैल्शियम एवं मैग्नेशियम के बाइकार्थोनेट लवण के घुले रहने के कारण होती है। 

• जल की स्थायी कठोरता उसमें कैल्शियम और मैग्नेशियम के सल्फेट तथा क्लोराइड आदि लवणों के घुले रहने के कारण होती है। 

• पानी की स्थायी तथा अस्थायी कठोरता को दूर करने के लिए सोडियम कार्बोनेट का प्रयोग होता है। 

• सोना और चाँदी के शुद्धीकरण में नाइट्रिक  अम्ल का प्रयोग किया जाता हैं 

• विद्युत का सबसे अच्छा सुचालक चाँदी है। 

• नाइट्स ऑक्साइड को हँसाने वाली गैस कहा जाता है। 

• कृत्रिम वर्षा के लिए प्रयोग में सिल्वर आयोडाइड को लाया जाता है। 

• शुद्ध सोना 24 कैरेट की होती है। 

• लोहा का सबसे शुद्ध रूप पिटवाँ लोहा है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!