लेवोजियर को रसायन विज्ञान का जनक कहा जाता है। 

• द्रव के रूप में पाया जाने बाला एकमात्र धातु पारा हे। 

•  कार्बन-12 के एक परमाणु के द्वव्यमान के 12वें भाग को परमाणु द्रव्यमान इकाई  कहते है। 

•  द्रव्यमान संख्या का मान परमाणु के नाभिक में उपस्थित प्रोटॉनों एवं न्यूट्रॉनो की संख्या के योग के बराबर होता हेै। 

•  ब्रोमीन द्रव के रूप में पाया जाने वाला एकमात्र अधातु है। 

•  हीरा का अपवर्तनांक 2.42 तथा क्रांतिक कोण 24.4° होता है। 

• हीरा की रचना चतुष्फलकीय होता है। 

• ग्रेफाइट की रचना षष्टफलकीय होती हे। 

• नाइलॉन, न्यूयार्क एवं लंदन के वेज्ञानिकों द्वारा बनाया गया पहला संश्लेषित रेशा था। 

• LPG  मे गंध के लिए सल्‍फर के योगिक मिथाइल मरकॉप्टेन मिलाया जाता है। 

• कपूर को उर्ध्वपातन विधि द्वारा शुद्ध किया जाता है। 

• गेसों के विसरण के नियम का प्रतिपादन ग्राह्म ने किया था। 

• एयर कंडीश्नरों में सामान्यत: प्रयुक्त होने वाली प्रशीतक फ्रिऑन है। 

• अल्कोहलीय पेय में इथाइल एल्कोहल होता है। 

• थर्मोकॉल को कृत्रिम रबड कहा जाता है। 

• मूत्र का पीला रंग यूरोक्रोम के उपस्थिति के कारण होता है। 

• प्रकृति में सबसे अधिक मात्रा में पाये जाने वाला कार्बनिक यौगिक सेल्यूलोज हे। 

• तम्बाकू में विषेला पदार्थ निकोटिन होता है। 

• यूरिया में नाइट्रोजन की मात्रा 46% होता है। 

• गोबर गेस में मुख्यतः मिथेन होती है। 

• ग्रेफाइट एक मात्र कार्बन का अपरूप है जो विद्युत का सुचालक है। 

• सर्वाधिक हल्की गेस हाइड्रोजन है। 

• जंग लगने पर लोहे का भार बढ़ता हे। 

• अमलगम पारे का मिश्रधातु है। 

• चश्में का लेंस क्रुक्स काँच का बना होता है। 

• बिजली से लगी आग बुझाने में कार्बन टेटा्क्लोराइड  अग्निशामक प्रयुक्त होता है। 

• पोर्टलेण्ड सीमेण्ट का प्रमुख घटक चुना, सिलिका, एलुमिना तथा मैगनेशिया हे। 

• वर्षा का जल सबसे शुद्ध होता है। 

• लोहे में जंग लगने से फेरिक व फेरस ऑक्साइड बनता है। 

• समुद्री जल से नमक वाष्यीकरण विधि द्वारा तैयार किया जाता है। 

error: Content is protected !!