Share this…
फाइलम खनिज लवणों को जड॒ से पत्तियों तक पहुँचाता है। 


• एथिलीन एक मात्र हामोंन है जो गैसीय रूप में पाया जाता है।

• पारिस्थितिकी विज्ञान की वह शाखा है जिसके अन्तर्गत जीवों का अध्ययन उनके वातावरण के संबंध में किया जाता है।

पारिस्थितिकी को सर्वप्रथम A.G Tansley ने परिभाषित किया था।

• सलल्‍फर एवं नाइट्रोजज के ऑक्साइड अम्ल वर्षा (4०० 7२४४) के लिए उत्तरदायी होते है।

• CO को मृतक वायु कहा जाता हेै।

• CFC (क्लोरोफ्लोरों कार्बन) ओजोन मंडल को नष्ट करता है।

फलों का अध्ययन पोमोलॉजी कहलाता है।

• 3 दिसम्बर, 1984 को भोपाल के यूनियन कार्बाईड संयंत्र से मिथाइल आइसोसाइनाइट गैस का रिसाव हुआ था।

• मरूस्थलीय पौधों का अध्ययन जीरोफाइटस कहलाता है।

• सबसे बड़ा आवृतबीजी पौधा युकेलिप्टस है।

• सबसे छोटा आवृतबोजी पौधा लेम्ना (जलीय पौधा) है।

• सबसे छोटा गुणसूत्र शैवाल में पाया जात है।

• सबसे लम्बा गुणसूत्र टराइलियम में होता है।


• सबसे छोटा नग्नबीजी पौधा जेमिया पिगमिया है।

• जिबरेलिन सर्वप्रथम कबक से प्राप्त किया गया था।

• प्रोटोन की मात्रा सोयाबीन में सबसे अधिक होती है।

• पत्तों की कोशिका में पर्णहरित रहता है।

• पौधे सूर्य की प्रकाश में पर्णहरित की सहायता से कार्बोहाइड्रेट का निर्माण करते है।

• फूलों का अध्ययन एन्थोलॉजी कहलाता है।

• फूल पौधा का जनन अंग होता है।

• पुमंग फूल का नर जननांग है।

• नर तथा मादा युग्मक के संयुग्मन को निषेचन कहते है।

• निषेचन के बाद युग्मनज का निर्माण होता है।

• प्रकाश संश्लेषण कंवल हरे पौधे में होता हे।

• पौधे रात्रि में स्फ्रदीप्ति द्वार चमकते है।

• जीन को आनुवंशिकी की इकाई कहा जाता है।

• खाद्य पदार्थों का संवहन फ्लोएम से होता है।

• क्लोरोफिल में Mg धातु पाया जाता है।

• यीस्ट का उपयोग बेकिंग तथा पेय पदार्थों में होता है।

• प्रकाश संश्लेषण की दर लाल प्रकाश में सबसे अधिक होता है।

• चाय में थीन तथा कॉफी में कैफीन एल्कोलॉयड पाया जाता हेै।

क्लोरोफिल में Mg धातु पाया जाता है।

• जब फल का निर्माण अंडाशय से न होकर फूल के किसी अन्य भाग से होता है, तो उसे असत्य फल कहते हे।

• जिस फल का निर्माण केवल अंडाशय द्वारा होता है, सत्यफल कहलाता हेै।

• सेब, कटहल, नाशपाती एक असत्य फल हे।

• प्रकाश संश्लेषण की दर बैंगनी प्रकाश में सबसे कम होती है।

निषेचन के बाद बीज बीजाण्ड से बनता है।

• नारियल में प्रकीर्णन पानी द्वारा होता है।

• राइजोबियम जीवाणु दलहन के जड़ पर पाये जाते है।

• खीरा में नर और मादा फूल अलग-अलग होता है।

• हरे रंग के प्रकाश में लाल कवक एवं भूरा कवक में प्रकाश संश्लेषण होती है।

• प्रकाश संश्लेषण की क्रिया में ऑक्सीजन पानी से निकलता है।

• प्रकाश संश्लेषण केवल दिन में होता है।

• क्लोरोफिल में मैग्नीशियम उपस्थित होता है।

• हरा प्रोटेजोआ को पैरामीशियम के नाम से जाना जाता है

• एक जलीय पौधे को हाइड्रोफ़ाइट कहते है।

• प्राकृतिक-वरण सिद्धान्त का प्रतिपादन डार्विन ने किया है।

अग्निनीरजा’ रोग सेब से संबंधित है।

• तने की वृद्धि दर सही रूप से नापने के लिए ऑक्जेनोमीटर का प्रयोग होता है।

• ऑक्सिन एक पादप हार्मोन है।

• प्रकाश संश्लेषण का प्रथम स्थिर यौगिक फॉस्फोग्लिसरिन अम्ल है।

• पौधे में वाष्पोसर्जन की क्रिया पत्ती में होती है।

तारपीन का तेल चीड़ से प्राप्त किया जाता है।

• प्रोटीन का सबसे अच्छा स्त्रोत सोयाबीन है।

• सबसे लम्बा वृक्ष सिकोया है।

• प्याज तने का परिवर्तित रूप है।

• सबसे बड़ा बीजाण्ड साइकस में होता है।

लाइकेन कवक और शैवाल दोनो वर्ग के पौधों से मिलकर बनता है।

• अफीम कच्चे फलों के लेटेक्स से प्राप्त होती है।

• तम्बाकू में सुगंध पैदा करने वाला बेक्टेरिया बैसिलस मेगाथीरियम है।

• चावल एवं गेहूँ सोलेनेसी कुल के पौधे है।

• जड़ की कोशिका में उपस्थित लवक को ल्यूकोप्लास्ट कहते है।

• गन्ने की चीनी ग्लुकोज एवं फ्रक्टोज के संयोग से बना होता है।

Share this…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *