मध्‍यप्रदेशके प्रमुख पर्व व उत्‍सव Major Festival of Madhya Pradesh

यह MPGK Notes मध्यप्रदेश में आयोजित ESB, VYAPAM, MPPEB, MPPSC सभी परीक्षाओं के लिए उपयोगी हैं। हमारे द्वारा यह MPGK Topicwise Notes उपलब्ध करवाए जा रहे हैं। यह MPESB के लिए उपयोगी MPGK Notes समय-समय पर अपडेट किए जाते रहेंगे। जिससे आपको बार-बार नई किताबें खरीदने की जरूरत नहीं होगी।

क्र.उत्‍सवक्षेत्रविशेष
1.भगोरियामालवाहोली से समय भील जनजातियों के द्वारा म.प्र. के मालवा क्षेत्र में 20 स्‍थानों पर 7 दिन  के  लिए 3 चरणों में आयोजित किया जाता है ।
2.गणगौरमालवा, निमाड़शिव – पार्वती की पूजा की जाती है ।
3.मढ़ईसतपुड़ादीपावली के बाद 15 दिन तक आयोजन किया जाता है ।
4.संजा/मामूलियाबुंदेलखंड, मालवाकुंआरी लड़की द्वारा संध्‍या चंदन ।
5.मेघनाथसतपुड़ागोंड, कोरकू जनजाति द्वारा होली के बाद 15 दिन तक मनाया जाता है ।
6.लारूकाजसतपुड़ा (बालाघाट, सिवनी, बैतूल)गोंड जनजाति द्वारा नारायण देव के सम्‍मान में, सुअर की बली देकर यह पर्व मनाया जाता है ।
7.गोल गधेड़ोनिमाड़ , मालवाहोली के समय, भीलों द्वारा भगोरिया उत्‍सव के साथ मनाया जाता है ।
क्र.उत्‍सवक्षेत्रविशेष
8.नवन्‍नाबुंदेलखंडनई फसल आने पर मनाया जाता है व इसे छोटी दीपावली भी कहा जाता है ।
9.रातौनासतपुड़ा (मैकाल)बैगा द्वारा मधुमक्‍खी की पूजा की जाती है ।
10.गोवर्धन पूजासम्‍पूर्ण मध्‍यप्रदेशदीपावली के 1 दिन बाद से 5 दिन तक गोबर से गोवर्धन की प्रतिमा बनाकर पूजा की जाती है ।
11.नीरजामालवायह पर्व गुजरात के गरबा से प्रेरित है व नवरात्रि पर मनाया जाता है ।
12.हरियाली अमावस्‍यामालवा, सतपुड़ाइसमें कृषि उपकरणों की पूजा की जाती है ।
13.काकसारबघेलखंडनई फसल आने पर अबूझमाडि़या द्वारा यह पर्व मनाया जाता है ।
14.सुआराबुंदेलखंडअसत्‍य पर सत्‍य की जीत के उद्देश्‍य से राक्षस की मूर्ति पर शिव पार्वती की मूर्ति रखकर यह पर्व आयोजित किया जाता है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *